भरे सदन में सदस्य के पाद से मचा हाहाकार, रोकनी पड़ गई कार्यवाही

0
374

केन्या की रीजनल असेंबली में हाल ही में कार्यवाही सिर्फ इसलिए रुक गई, क्योंकि सदन के भीतर किसी ने पाद दिया था। अचानक फैली वहां दुर्गंध से अधिकतर लोग परेशान हो गए थे। कुछ उस दौरान नाक ढंक कर बदबू से बचने की कोशिशें कर रहे थे, जबकि कई सदस्य एक-दूसरे पर बदबू छोड़ने का आरोप लगाने लगे। इसी हाहाकार के बीच एक सदस्य ने स्पीकर से दखल की मांग की, जिसके बाद वहां रूम फ्रेशनर से छिड़काव कराया गया। स्प्रे होने के बाद सदन में माहौल सामान्य हो सका और तब जाकर कार्यवाही फिर शुरू हुई थी।

यह अनोखा मामला वहां की होमा बे काउंटी असेंबली से जुड़ा है। बुधवार को लंच के बाद का सत्र चल रहा था, तभी किसी ने सदन में पादकर बदबू फैला दी। ‘नैरोबी वायर’ के मुताबिक, काउंटी एसेंबली (एमसीए) के सदस्य ज्यूम आवर फ्लोर पर किसी अहम मुद्दे का जिक्र कर रहे थे। इसी बीच, उन्हें पीठासीन स्पीकर एडविन काकच ने रोक दिया था।

रिपोर्ट के अनुसार, कुछ पुरुष एमसीए एक-दूसरे पर सदन में पादने को लेकर छींटाकशी कर रहे थे, जिस पर काकच का ध्यान गया। एमसीए जूलियस गाया ने स्पीकर से तभी कहा, “माननीय अध्यक्ष, हम में से किसी ने पाद कर वायु को दूषित कर दिया है और मुझे मालूम है कि वह कौन है।” हालांकि, गाया ने जिस पर पादने का आरोप लगाया, उसने इसे खारिज कर दिया और जवाब में कहा- मैं नहीं हूं। मैं ऐसी चीज अपने सहयोगियों के सामने नहीं कर सकता।

स्पीकर ने हाहाकर बढ़ते और सदस्यों की परेशानी देखते हुए वहां का वातावरण ठीक कराने के लिए 10 मिनट के ब्रेक का ऐलान किया। यानी सदन की कार्यवाही उस दौरान रुकी रही। इतना ही नहीं, स्पीकर ने उस दौरान सभी सदस्यों से सदन से बाहर निकलने की अपील भी की, ताकि वहां पर रूम फ्रेशनर डलवाया जा सके।

बीबीसी अफ्रीका ने स्पीकर के हवाले से बताया, “हम इस तरह के बदबूदार माहौल में नहीं बैठ सकते हैं।” फटाफट इसके बाद वहां रूम फ्रेशनर डलवाया गया। स्पीकर ने सफाईकर्मियों से कहा- आप लोगों को जिस भी फ्लेवर का रूम फ्रेशनर मिले, ले आइए। फिर चाहे वह वैनिला हो या स्ट्रॉबेरी, बदबू हटनी चाहिए।