दिल्ली संप्रदायिक हिंसा के बाद अंतरराष्ट्रीय स्तर पर खराब हुई भारत की छवि… कई देशों ने दी नसीहत

1
1637

हाल ही में दिल्ली में नागरिक संशोधन कानून के समर्थन और विरोध में हो रहे प्रदर्शन को लेकर भड़की सांप्रदायिक हिंसा के बाद देश की राजधानी दिल्ली का काफी नुकसान हुआ है इस सांप्रदायिक हिंसा में दोनों ही समुदाय के लोगों को बड़ा नुकसान झेलना पड़ा 40 से अधिक जाने अब तक जा चुकी हैं।

अभी भी लगातार घायल मरीज अस्पताल में भर्ती है और उनका इलाज किया जा रहा है डॉक्टरों के अनुसार अभी ये आंकड़ा और बढ़ सकता है इसी बीच हिंसा को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत देश के कई बड़े नेताओं ने जनता से अपील की थी कि वह शांति बनाए रखें और साथ ही साथ देश की एकता को बनाए रखने में मदद करने की भी अपील की थी।

पुलिस ने भी जनता से अपील की थी कि अफवाहों पर ध्यान ना दें और माहौल को बेहतर बनाने में पुलिस की मदद करें जिसके बाद दिल्ली का माहौल सुधरता नजर आ रहा है अब दिल्ली में जीवन सामान्य होता नजर आ रहा है दंगे में जलाई गई दुकानों पर रंगाई पुताई का काम चल रहा है इसी बीच भारत की अंतरराष्ट्रीय स्तर पर छवि इस दंगे के बाद बेहद खराब होती नजर आ रही है।

कई देशों के आला नेताओं ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और सत्ता दल भारतीय जनता पार्टी को हिदायत दी है कि वह देश के अंदर फैल रहे सांप्रदायिक दंगों पर काबू पाने की कोशिश करें वरना भारत के कई पुराने दोस्त बिछड़ सकते हैं इस सिलसिले में सऊदी अरब का भी बयान सामने आ गया है सऊदी अरब ने भी भारत के प्रधानमंत्री को नसीहत दे दी है।

इससे पहले टर्की के राष्ट्रपति तैयब दुकान ईरान के राष्ट्रपति हु मेनी ब्रिटेन सांसद अमेरिका ने भी हिदायत दी थी इसी बीच आईओसी कभी बयान सामने आया था और दिल्ली हिंसा को लेकर चिंता जाहिर की थी इस दंगे के बाद से अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भारत को लेकर कई चर्चाएं हो रही हैं भारत के अंदर हुए हाल ही में दंगों ने देश की छवि खराब की है

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here