मोदीराज-2 में ऑटो सेक्टर में आर्थिक मंदी! हीरो, टाटा और मारुती के बाद अब हुंडई ने भी बंद किया प्लांट

0
1077

ऑटोमोबाइल सेक्टर अबतक के सबसे ख़राब दौर से गुजर रहा है। पिछले दिनों अंतरराष्ट्रीय समाचार एजेंसी रायटर्स में छपी रिपोर्ट के मुताबिक वाहन निर्माता, पार्ट्स निर्माता और डीलर्स बीते अप्रैल महीने से 3.50 लाख से ज्यादा कर्मचारियों को नौकरी से निकाल चुके है। अब हुंडई मोटर इंडिया ने अपने प्लांट्स में अगस्त के दौरान प्रॉडक्शन बंद रखने का एलान किया है।

दरअसल ऑटोमोबाइल सेक्टर में जीएसटी के कारण बिक्री में भारी गिरावट आई है। पिछले दिनों जहां देश की सबसे बड़ी कार निर्माता कंपनी मारूती ने अपने उत्पादन में कमी दर्ज की वहीं टाटा मोटर्स ने अपने चार प्लांट्स को शटडाउन कर दिया है।

अब हुंडई ने एलान किया है कि बॉडी शॉप, इंजन/ट्रांसमिशन लाइन्स, पेंट शॉप, असेंबली शॉप और सपोर्ट टीम्स समेत सभी डिपार्टमेंट्स में कोई प्रॉडक्शन नहीं होगा। कंपनी द्वारा जारी नोटिस के मुताबिक, हुंडई ने पहले से 10-12 अगस्त की अवधि को बॉडी, पेंट, असेंबली शॉप्स और सपोर्ट टीम्स डिपार्टमेंट में नो प्रॉडक्शन डेज रखा था।

इसके साथ ही कंपनी ने जानकारी देते हुए कहा कि अब पावरट्रेन प्रॉडक्शन को अगस्त में 10 शिफ्ट और इंजन शॉप डिपार्टमेंट को 9 शिफ्ट के लिए सस्पेंड कर दिया गया है। ट्रांसमिशन लाइन भी 6 शिफ्ट तक के लिए सस्पेंड रहेगी।

ऑटोमोबाइल सेक्टर में आई आर्थिक गिरावट के चलते कई बड़ी कंपनियों ने अपना प्रोडक्शन रोक दिया है। इनमें मारुति से लेकर अशोक लेलैंड, और टाटा मोटर्स से महिन्द्रा एंड महिन्द्रा, टोयोटा किर्लोस्कर, टीवीएस ग्रुप कंपनीज, बॉश, वैबको जैसे कई बड़ी कंपनियों ने कमजोर बाज़ार की वजह से प्रोडक्शन का ऐलान किया है।

सबसे पहले देश की सबसे बड़ी दोपहिया वाहन निर्माता कंपनी हीरो मोटोकॉर्प ने चार दिनों के लिए मैन्युफैक्चरिंग प्लांट बंद करने का ऐलान किया था।

कंपनी ने बाम्बे स्टॉक एक्सचेंज को इसके पीछे छुट्टियों का हवाला दिया है। मगर मैन्युफैक्चरिंग प्लांट 15 अगस्त से बंद हैं और ये 18 अगस्त तक बंद करने के पीछे सालाना अवकाश की बात कही है मगर सच्चाई बाज़ार में आई गिरावट का नतीजे है।

वहीं कार बनाने वाले कंपनी टोयोटा के मेकर मित्सुबा सिकल इंडिया लिमिटेड ने भी ऐलान किया है कि अपना प्रॉडक्शन घटाएगी। टोयोटा किर्लोस्कर ने भी 16 और 17 अगस्त को अपने दो प्लांट्स में प्रॉडक्शन हॉलिडे रखा। इसकी वजह कम डिमांड और लगभग 7000 यूनिट का हाई स्टॉक रहा।