ईद मिलादुन्नबी के धार्मिक आयोजन में हमला 40 से अधिक लोगों की मौत

0
10040

धार्मिक स्थल एक बार फिर आतंकवादियों के निशाने पर आ गए हैं, यह कोई पहली बार नहीं है जब किसी धार्मिक स्थल या धार्मिक आयोजन को आतंकी संगठनों ने अपना निशाना बनाया है इससे पहले भी इसी तरह की घटना देखने को मिली थी।

अफगानिस्तान की राजधानी काबुल में आतंकी संगठनों ने एक बार फिर आतंकी हमला कर कोहराम मचा दिया, आतंकियों ने काबुल के एक धार्मिक आयोजन मे आत्मघाती हमला कर शहर को दहला दिया जिससे पूरा देश हिल गया।

पैगंबर मोहम्मद के जन्मदिन( ईद मिलादुन्नबी) के जश्न में आयोजित एक जलसे में आत्मघाती हमला हुआ, जिसमें 40 से अधिक लोगों की मौत हो गई और 80 से ज्यादा लोग घायल हैं। सभी घायलों को काबिल के ही अस्पताल में भर्ती कराया गया है और घायलों का इलाज जारी है।

प्रारंभिक जांच में खुलासा हुआ है कि एक धार्मिक आयोजन में पैगंबर मोहम्मद के जन्मदिन समारोह पर लोग इकट्ठा हुए थे जिसमें एक आत्मघाती हमलावर ने खुद को बम से उड़ा लिया। बताया जा रहा है कि धार्मिक स्थल पर लाखों की तादाद में भीड़ जमा थी घायलों में कई लोगों की हालत बेहद नाजुक बनी हुई है और पुलिस का कहना है कि अभी मृतकों की संख्या में इजाफा हो सकता है।

अफगानिस्तान के गृह मंत्रालय ने हमले की पुष्टि करते हुए कहा है कि अभी तक किसी भी आतंकी संगठन ने इस हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है लेकिन हमे शक है कि तालिबान का इस घटना के पीछे हाथ हो सकता है।

फिलहाल पुलिस इस मामले की जांच कर रही है और पूरे इलाके को सील कर दिया गया है आम इंसान का वहां पर आवागमन बंद कर दिया है।